विलियम शेक्सपियर शेक्सपियर कि रचनाएं भी, साहित्य में दिलचस्पी रखने वाले इंसान के लिए, सादी की रचनाओं जितनी ही सम्मानीय हैं और मनोरंजक हैं।

फ़िक़ही सवाल व जवाब पर आधारित किताब तालीम ए अहकाम

किताब तालीम ए अहकाम सही तरीक़े से इबादत अंजाम देने और हलाल व हराम की पहिचान के लिए आसान ज़बान में तहरीर की गई है। यह आयतुल्लाहिल उज़्मा ख़ामेनई के फ़तवों और फ़िक़ही विचारों पर आधारित है।